प्रचंड तूफान में बदला चक्रवात ‘फेनी’, उत्तर-प्रदेश में भी दी सतर्क रहने की सलाह

प्रचंड तूफान में बदला चक्रवात 'फेनी', उत्तर-प्रदेश में भी दी सतर्क रहने की सलाह
नई दिल्ली-लखनऊ, 01 मई (एएनएस) । चक्रवात 'फेनी' प्रचंड तूफान में बदल गया है और शुक्रवार दोपहर तक यह गोपालपुर और चांदबाली के बीच ओडिशा तट को पार करेगा। मौसम विभाग ने इस संबंध में जानकारी दी है। बंगाल की खाड़ी में बने फेनी चक्रवात का असर उत्तर प्रदेश पर भी पड़ने की आशंका है। मौसम विभाग के अनुसार इस चक्रवात की वजह से आगामी 2 व 3 मई को उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश होने और तेज यानि 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज पुरवा हवा चलने के आसार हैं। इस वजह से वातावरण में 80 से 90 प्रतिशत नमी आ सकती है।


मौसम निदेशक जे.पी.गुप्ता ने इन हालात को देखते हुए किसानों और भंडार गृहों को खासतौर पर सलाह दी है कि नमी व तेज हवा से फसल को होने वाले नुकसान से बचाने के लिए कटी फसल, खुले में रखे अनाज व खेतों में तैयार खड़ी फसल को काट कर सुरक्षित रखने की समुचित व्यवस्था करें।
मौसम निदेशक के अनुसार 3 मई को प्रदेश के उत्तरी अंचल में आंधी-पानी के आसार हैं जबकि 4 मई को दक्षिण यूपी को छोड़कर पूरे प्रदेश में आंधी-पानी की आशंका है। राजधानी लखनऊ और आसपास का इलाका भी मौसम के इस बदले तेवर की चपेट में आ सकता है। बीते चौबीस घण्टों के दरम्यान वाराणसी, फैजाबाद, इलाहाबाद, लखनऊ, झांसी, मेरठ मण्डलों में दिन का तापमान सामान्य से अधिक रहा। राज्य के विभिन्न अंचलों में तेज धूप, तपन और लू के थपेड़ों से जनजीवन बेहाल रहा। इस दरम्यान रात में भी गर्मी का प्रकोप बना रहा।


चक्रवात का अलर्ट जारी
मौसम विभाग ने ओडिशा, पश्चिम बंगाल और आंध्रप्रदेश के कुछ हिस्से के लिए चक्रवात का अलर्ट जारी किया है और तटीय इलाके को खाली करने का सुझाव दिया है। मौसम विभाग के चक्रवात चेतावनी प्रभाग ने कहा कि चक्रवात 'फेनी' दक्षिण पश्चिम और पश्चिम मध्य और दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी की ओर है। यह पुरी (ओडिशा) के 760 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम और विशाखापत्तनम (आंध्रप्रदेश) के 560 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिणपूर्व तथा त्रिणकोमली के 660 किलोमीटर उत्तर-उत्तरपूर्व (श्रीलंका) में है। मौसम विभाग के अतिरिक्त महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र ने बताया कि इसने प्रचंड तूफान का रूप अख्तियार कर लिया है। प्रचंड चक्रवाती तूफान 'फेनी' के भारतीय पूर्वी तट की ओर बढ़ने पर नौसेना और तटरक्षक बल के जहाज तथा हेलीकॉप्टर, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की राहत टीमों को महत्वपूर्ण स्थानों पर तैनात किया गया है जबकि सेना और वायु सेना की टुकड़ियों को तैयार रखा गया है।