श्रीलंका में फिर बम विस्फोट,130 इस्लामिक स्टेट आतंकवादी की सूची,ऑपरेशन सफाई शुरू

श्रीलंका में फिर बम विस्फोट,130 इस्लामिक स्टेट आतंकवादी की सूची,ऑपरेशन सफाई शुरू


श्रीलंका के सुरक्षा बलों की शुक्रवार शाम पूर्वी प्रांत में हथियारों से लैस कथित आतंकियों के साथ मुठभेड़ हुई। इस बीच गोलीबारी के दौरान एक आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ा दिया। पुलिस ने बताया कि यह घटना कोलंबो से 325 किलोमीटर दूर तटीय शहर सामन्थुराई की है।
घटनास्थल से इस्लामिक स्टेट के लोगो वाले बैनरों के साथ विस्फोटक और ड्रोन का एक बड़ा जखीरा जब्त किया गया है। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि हमलावर ईस्टर हमले से जुड़े हो सकते हैं।
फिलहाल किसी नुकसान की खबर नहीं है। घटना के बाद शहर में सुरक्षा इंतजाम कड़े कर दिए गए हैं। पुलिस ने आज रात 10 बजे से सुबह 4 बजे तक के लिए पूरे श्रीलंका में कर्फ्यू लगा दिया है। वहीं साइंदमरदु, कलमुनई और चवलकडई में भी तत्काल प्रभाव से कर्फ्यू लगा दिया गया है।
श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने शुक्रवार को कहा कि इस्लामिक स्टेट (आईएस) आतंकवादी समूह से जुड़े 130 से अधिक संदिग्ध श्रीलंका में सक्रिय हैं। ईस्टर के पावन दिन श्रीलंका में हुए विस्फोटों की जिम्मेदारी आईएस ने ही ली है। इन बम विस्फोटों में 253 लोगों की मौत हो गई थी।
सिरिसेना ने कहा, 'सूचना यह है कि आतंकवादी नेटवर्क से जुड़े़ 130 से 140 आईएसआईएस संदिग्ध श्रीलंका में हैं। इनमें से करीब 70 को गिरफ्तार कर लिया गया है। हम जल्द ही सभी को गिरफ्तार करेंगे।'
उन्होंने कहा कि रक्षा सचिव और पुलिस महानिदेशक अपना कर्तव्य निभाने में नाकाम रहे और इसलिए उन्होंने उनका इस्तीफा मांगा है। राष्ट्रपति ने कहा कि वे देश में आतंकवादी हमला होने की आशंका संबंधी पहले मिली सूचना साझा करने में नाकाम रहे।
उन्होंने कहा कि वह और उनकी सरकार इन हमलों की पूरी जिम्मेदारी लेती है। सुरक्षा विभाग की कथित चूक के बाद हुए हमलों को लेकर पुलिस महानिदेशक पुजिथ जयसुंदरा और रक्षा सचिव हेमासिरी फर्नांडो ने अपने पद से अपना इस्तीफा दे दिया है।


राष्ट्रपति ने कहा, 'आईजीपी ने इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने अपना इस्तीफा कार्यवाहक रक्षा सचिव को सौंपा। मैं जल्द नया आईजीपी नियुक्त करूंगा।' फर्नांडो ने इससे एक दिन पहले ही अपना इस्तीफा दे दिया था