किन्नरों के साथ मिलकर शादियों में नाचने-गाने लगा था बेटा, बाप ने मार दी गोली


ग्रेटर नोएडा के दादरी इलाके में एक बाप ने अपने बेटे को गोली मार दी। वजह ये थी क्योंकि वह किन्नरों के समुदाय में शामिल हो गया था।






ग्रेटर नोएडा: नोएडा के दादरी इलाके के रज्जाक में एक शख्स ने अपने 25 वर्षीय बेटे की गोली मार दी। वजह ये थी कि बेटे ने किन्नरों के समुदाय (ट्रांसजेंडर कम्युनिटी) को ज्वाइन कर लिया था। शख्स हामिद उसी कॉलोनी का रहने वाला है जिस कॉलोनी में किन्नरों का समुदाय रहता था। उसके पिता एक मोटर मैकेनिक का काम करते थे। 


पुलिस ने बताया कि पड़ोसियों के मुताबिक सुबह 6 बजे के करीब उन्होंने गोली चलने की आवाज सुनी इसके कुछ समय के बाद ही उन्होंने हामिद के परिजनों को अस्पताल जाते हुए देखा। इसके बाद पड़ोसियों ने पुलिस को गोलीबारी की सूचना दी। एसपी विनीत जायसवाल ने बताया कि हमें 11 बजे के करीब इसकी सूचना मिली जिसके बाद पुलिस की कुछ टीम हामिद के घर पर पहुंची लेकिन वहां पर केवल महिलाओं के अलावा और कोई नहीं थी।


वे पहले गोलीबारी के बारे में कुछ बताना नहीं चाह रहे थे लेकिन पुलिस ने खून से सने कपड़े बरामद कर लिए। जिस बिस्तर पर हामिद सो रहा था वहां खून के धब्बे मिले। पुलिस के मुताबिक प्रथ्दृष्टया ऐसा प्रतीत होता है कि हामिद जब सो रहा था उसी दौरान उसे गोली मारी लेकिन गलती से गोली उसके सिर में ना लगकर उसके हाथ में लग गई।


जांच में पता चला कि गोली उसके पिता ने ही चलाई थी। क्योंकि उसके बेटा ट्रांसजेंडर समुदाय में शामिल हो गया था और इसी बात से उसका पिता उससे नाराज था। पुलिस मामले को लेकर लिखित शिकायत दर्ज कराए जाने का इंतजार कर रही है। पड़ोसी ने बताया कि हामिद की शादी कुछ समय पहले ही हुई थी लेकिन जब उसे उसकी सेक्शुअलिटी के बारे में पता चला कि हामिद अपने जीवन में काफी मुश्किलों के दौर से गुजर रहा था क्योंकि किन्नरों के प्रति उसका बढ़ता आकर्षण उसके परिवार वालों को मंजूर नहीं था।


छह महीने पहले ही उसने किन्नरों के समुदाय को ज्वाइन किया था और अपने किन्नर साथियों के साथ लोगों की शादी और फंक्शन में गाने बजाने के लिए जाता था। इसी बात के लिए उसके पिता अक्सर उसका अपमान करते रहते थे। घटना वाली रात भी पिता बेटे के बीच जमकर बहस हुई थी।